एनर्जी और स्टैमिना कैसे बढ़ाये 10 उपाय - Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi

एनर्जी और स्टैमिना बढ़ाने के 10 उपाय 

 Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi
Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi :- क्या आपको सुबह बिस्तर से उठने में आलस्य महसूस होता है  ? क्या आपको एनर्जी के लिए एक कप कॉफ़ी की जरूरत पड़ती है  ? क्या आपक थोड़ा सा काम करने पर थका -थका सा महसूस करने लगते है ? आपको अपनी थकान का सही कारण पता करना चाहिए। थकान का कारण पता लगने पर आप इस स्तिथि में सुधार करके हमेशा एनर्जेटिक बने रह सकते है। हर इंसान दिनभर ऊर्जावान बना रहना चाहता है ऊर्जावान बने रहने से हर काम आसानी से हो जाता है। अगर आप दिनभर थके हुए रहते है तो आइये पता करें इसका कारण और निवारण

विषय सूची:-
  1. पर्याप्त व्यायाम नहीं 
  2. आप डिहाइड्रेट है
  3. ज्यादा कॉफी ना लें
  4. मंद थाइरॉयड
  5. आयरन की कमी
  6. प्रोटीन का अभाव
  7. शुगर की जरूरत से ज्यादा मात्रा लेना
  8. जंक स्लीप से बचें
  9.  नकारात्मक से बचें 
  10. ऑरेंज जूस बढ़ाता है प्रोढ़ावस्ता में स्मरण शक्ति
  11. बोलकर याद करने से मजबूत होगी याददाश्त
  12. अंकुरित लहसुन खाना है ज्यादा फायदेमंद
  13. हैप्पी दांतों के लिए करें 'ऑइली पुलिंग

Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi

 Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi


1. पर्याप्त व्यायाम नहीं :-

यूनिवर्सिटी ऑफ़ जॉर्जिया के एक अध्ययन के मुताबिक जिन लोगों ने एक सप्ताह में 3 दिन सिर्फ 20 मिनट के लिए एक्सरसाइज की , उन्होंने छह सप्ताह बाद खुद को ज्यादा ऊर्जावान महसूस किया। एक्सरसाइज से पुरे शरीर को ऑक्सीजन और पोषक तत्व सही तरह से मिलने लगते है।  भले ही थोड़ा समय करें पर व्यायाम जरूर  करें।

एनर्जी को करें री-बूट 

जब आप अपना पूरा काम करके सोफे पर बैठने वाले हों ,तो आराम करने की बजाय 10 मिनट की वॉक करें। खुद को एक्सरसाइज के लिए मजबूर करें और इसे आदात बनाएं। व्यायाम करने से आप थकान महसूस नहीं करेंगे। 

2. आप डिहाइड्रेट है :- 

अगर शरीर के Normal Water Level में दो फीसदी की कमी हो जाए तो आपका Energy Level कम हो सकता है। कुछ लोगों को पानी पिने की ही आदत नहीं होती। उम्र बढ़ने के साथ-साथ भी लोग पानी पीना कम कर देते है एयर कंडीशनर ऑफिस में काम करते रहने , वॉक पर जाने या पानी पीना भूल जाने से डिहाइड्रेशन बढ़ सकता है।

एनर्जी को करें री-बूट 

आपको हर दो घंटे में पानी जरूर पीना चाहिए। अगर आप नियमित रूप से पेशाब नहीं जा रहे है या यूरिन बहुत  डार्क है तो समझ ले की आपको ज्यादा पानी पिने की आवश्यकता है। पानी पिने से वैसे भी कई बीमारियां दूर होती है। 

3. ज्यादा कॉफी ना लें :- 

हालाँकि ज्यादातर लोग सोचते है कि कैफीन आपके  अंदर ऊर्जा भर्ती है पर असल में यह हमें ज्यादा थका हुआ महसूस करवाती है। हमारी ब्रेन कमेस्ट्री सिम्युलेंट्स द्वारा छेड़छाड़ पसंद नहीं करती , इसलिए यह अलर्ट रिस्पांस को धीमा करने के लिए केमिकल रिलीज़ करती है और हम दोबारा थकान महसूस  करने लगते है।

एनर्जी को करें री-बूट 

कैफीन को नजरअंदाज करके आप लम्बे समय के लिए अपने ऊर्जा के स्तर को बनाए रख सकते है आपको एक साथ ही कॉफ़ी की मात्रा बंद नहीं करनी चाहिए ,बल्कि एक-एक कप करके मात्रा घटानी चाहिए। 

4. मंद थाइरॉयड :- 

मिडिल  Age महिलाओं में अंडरएक्टिव थायरॉइड होने के कारण थकान की समस्या पैदा हो सकती है थायरॉइड कंडीशन के अन्य लक्षणों में ज्यादा प्यास लगना , वजन बढ़ना और ठंड महसूस करना शामिल है।

एनर्जी को करें री-बूट 

ब्लड टेस्ट करवाएं। अगर अंडरएक्टिव थायरॉइड डायग्नोसिस हो तो दिन दिन में एक टेबलेट समस्या को दूर कर सकती है। ट्रीटमेंट शुरू करने के कुछ दिनों बाद ही ज़्यदातर लोग अपने साधारण एनर्जी लेवल तक लौट आते है।  

5. आयरन की कमी :- 

आंकड़े बताते है कि एक तिहाई महिलाओं में आयरन की कमी है यह ज्यादा पीरियड्स की वजह से होता है कुछ महिलाओं में आयरन इतना कम होता है कि वे एनिमिक हो जाती है अगर आप अपनी आँखों की निचे की पुतली के किनारों को देखें और गुलाबी की जगह पीलापन नजर आए तो समझ लें कि आपमें आयरन कि कमी है।

एनर्जी को करें री-बूट 

आयरन का स्तर बढ़ाने के लिए आपको टेबलेट दी जाएंगी। अगर आयरन का स्तर आपकी बॉडी में नार्मल से बहुत कम है पर आप एनिमिक नहीं है तो हरी पत्तेदार सब्जियां लेनी शुरू कर दें। पालक , मटर दालें , मेवे की मात्रा भोजन में बढ़ा दें। 

6. प्रोटीन का अभाव :- 

फलों और सलाद पर निर्भर करने से आपको अच्छा महसूस हो सकता है पर भोजन में प्रोटीन का अभाव होने पर आपको थकान हो सकती है। आपको भोजन में दूध ,दही ,दाल ,मेवे आदि का समावेश करना चाहिए। इनसे आपको काफी ऊर्जा मिलती है। अच्छा भोजन ही बेहतर तन और मन का निर्माण करता है।

एनर्जी को करें री-बूट

एनर्जी लेवल को स्थिर रखने के लिए आपको भोजन में पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन जरूर लेना चाहिए। आपको पनीर, टोफू, दूध, दही, दाल, अखरोट, बादाम, काजू, फलीदार सब्जियां का जरूर सेवन करना चाहिए। 

7. शुगर की जरूरत से ज्यादा मात्रा लेना :- 

ज्यादा लोग जिन चीजों को एनर्जी देने वाला समझते है वे ही आपके शरीर में थकान पैदा करते है शुगर वाली एनर्जी ड्रिंक , स्नैक फ़ूड जैसे - बिस्कुट , चॉकलेट आदि चीजें खाने से थकान और चिड़चिड़ाहट पैदा होती है इससे आप दोपहर में झपकी लेना भी भूल सकते है।

एनर्जी को करें री-बूट

अपने खान-पान में ज्यादा मीठे पदार्थों का सेवन कम कर दें। ब्रेड और पास्ता आपके शरीर में तुरंत शुगर बढ़ा देते है। आपको कृत्रिम मीठे के बजाय प्राकृतिक मीठा खाना चाहिए। 

8. जंक स्लीप से बचें :- 

कई लोग जंक स्लीप पर जरूरत से ज्यादा निर्भर हो गए है। इस तरह की नींद में व्यक्ति पूरी रात बार जागता है इससे आपका एनर्जी लेवल अपने ऊगात्म स्तर तक नहीं पहुंचा पाता। गहरी नींद के अभाव में आप अगले दिन थके थके से रहते है। जंक स्लीप स्ट्रेस के कारण हो सकती है। कई बार सोने के समय पर दिमाग को जरूरत से ज्यादा सिम्युलेट करने से भी ऐसा होता है उदाहरण के और पर सोने के समय ईमेल चेक करने या बार-बार स्मार्टफोन इस्तेमाल करने से दिमाग में वेकअप हार्मोन्स पैदा होने लगते है इससे आप सही तरह से सो नहीं पाते है।

एनर्जी को करें री-बूट

फिक्स टाइम पर सोने के लिए जाएं। सोने से एक घंटे पहले टीवी ,स्मार्टफोन आदि बंद कर दें। अच्छी नींद के लिए बाथ लें या कोई किताब पढ़ें। सोने के लिए डिम लाइट का प्रयोग करें। 

9. नकारात्मक से बचें :- 

ज्यादातर लोग अपने जीवन और काम से परेशान रहते है  वे ख़ुशी का कोई भी बहाना स्वीकार नहीं करते। नकारात्मक विचार उन्हें पसंद आते है। अखबार में छपी नेगेटिव खबरों को वे बड़े चाव से पढ़ते है। उन्हें लगता है कि जीवन में कोई भी बदलाव नहीं हो सकता। इसलिए वे हमेशा निढाल पड़े रहते है। 

एनर्जी को करें री-बूट

सपनों को पूरा करने के लिए हमेशा तैयार रहें । भविष्य की प्लानिंग करें और प्लानिंग के अनुरुप काम करें। अच्छे विचारों को जीवन में आत्मसात करें। हमेशा खुद को ऊर्जावान रहने के लिए प्रेरित करते रहें ।



 Extra Tips:-


1. ऑरेंज जूस बढ़ाता है प्रोढ़ावस्ता में स्मरण शक्ति :- 

यूनिवर्सिटी ऑफ़ रीडिंग में अध्ययन के अनुसार दुनिया की आबादी तेजी से प्रोढ़ावस्ता की ओर अग्रसर है। इसलिए यह आवश्यक है कि हमें प्रोढ़ावस्ता में स्मरण शक्ति से संबधित सुधार को लेकर एक साधारण व् सस्ता तरीका ढूंढे। ऐसे में संतरे का रस न सिर्फ आपको स्वस्थ रखने में मददगार है। बल्कि यह बुजुर्गों की स्मरण शक्ति में सुधार लाने में भी भूमिका निभाता है नए अध्ययन में यह सामने आया है।  

2. बोलकर याद करने से मजबूत होगी याददाश्त :-

विक्टर बाउचर ऑफ़ यूनिवर्सिटी मॉन्ट्रेल के एक अध्ययन  निष्कर्ष है कि याद रखने का आसान तरीका है जोर से बोलकर याद करना। जब आप बोलकर याद करते है तब सुनने वाला ध्यान दे या नहीं , आपकी स्मृति तेज होती है। चिकित्सा विज्ञान के अनुसार साउंड सेंसोरी मोटर लिंक पैदा करता है , जो याददाश्त बढ़ाता है। आपके बोलने के अंदाज  इससे सुधार होगा।


3. अंकुरित लहसुन खाना है ज्यादा फायदेमंद :-

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ़ लोवा में हुई एक रिसर्च में सामने आया है कि लहसुन खाने से ज्यादा फायदे  लेने है तो इसे अंकुरित रूप में खाया जाना चाहिए। कोलेस्ट्रॉल और दिल की बीमारियों की रोकथाम के लिए लहसुन के बीज से जब अंकुरण निकलता है तो वे कई नए यौगिक बनाते है जो कई रोगाणुओं से बचाते है।


4. हैप्पी दांतों के लिए करें 'ऑइली पुलिंग ':-

दांतों को स्वस्थ रखने की एक थेरेपी है ऑइली पुलिंग। इस थेरेपी के अनुसार किसी भी प्रकार के खाद्य तेल ( नारियल तेल , सूरजमुखी तेल या वेजिटेबल ऑयल  ) से खाली पेट 20 मिनट तक कुल्ला करने से दांतों की बीमारियां दूर हो जाती है। ये एक आयुर्वेदिक थेरेपी है  जो लगभग 300 साल पुरानी है। तेल से कुल्ला करने से बैक्टीरिया मर जाते है ,और इससे दांत और मसूड़े मजबूत रहते है। 

Last words :-

 Energy Aur Stamina Badhane Ke Top 10 Tips in Hindi
तो दोस्तों अब आप जान ही चुके होंगे कि एनर्जी और स्टैमिना कैसे बढ़ाये इन 10 उपायों के माध्यम से आपको ये Article कैसा लगा। अपने विचार हमारे साथ शेयर जरूर करें। ..... अगर आप Health से  Related और भी जानकारी चाहते है तो आप इस ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है उसका फायदा आपको यह होगा कि जब भी हम कोई नई पोस्ट इस वेबसाइट पर पब्लिश करेंगे तो उसकी जानकारी आपको सबसे पहले आपके जीमेल इनबॉक्स में मिल जाएगी। और तब आप उस आर्टिकल को बड़ी ही आसानी के साथ Read कर सकेंगे।
धन्यवाद। 

Post a Comment

0 Comments

All Rights Reserved - Hashwh.com - 2018