हंसना है सेहत के लिए बेहद फायदेमंद - Hansne ke Top Fayde.

हंसना है सेहत के लिए बेहद फायदेमंद - हंसने के Top फायदे 

कभी - कभी हंस भी लिया करो जी - हंसने के Top फायदे
' लाफ्टर इज द बेस्ट मेडिसिन ' यानी हंसी लाख मर्ज़ की एक दवा होती है। लेकिन क्या आप जानते है कि खुद पर हंसना स्वास्थ्य के लिए कितना ज्यादा फायदेमंद होता है। स्पेन के ग्रानाडा यूनिवर्सिटी में हुई एक स्टडी में यह बात सामने आई है कि पर्सनेलिटी एंड इंडिविजुअल डिफरेंसेज जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में बताया गया है कि खुद पर चुटकुले कहने वाले या खुद पर हंसने वालों के मनोवैज्ञानिक स्वास्थ्य का स्तर काफी अच्छा होता है। इसके अलावा इस बात पर भी जोर दिया गया है कि खुद पर हंसना एक तरह से गुस्सा दबाने या नियंत्रित करने की कोशिश का संकेत होता है। गुस्सा न करना भी सेहत के लिए लाभकारी होता है। 

हंसने के क्या-क्या फायदे है 

कभी - कभी हंस भी लिया करो जी - हंसने के Top फायदे
हंसना तनाव, दर्द और बीमारियों को दूर करने का प्रभावी एंटीडोट है। शरीर और दिमाग को संतुलित रखने के लिए हंसी से कारगर और जल्द असरकारी दवा नहीं हो सकती है। क्या आप जानते है कि खुद पर हंसना सेहत के लिए कितना ज्यादा फायदेमंद होता है तो चलिए जान लें  कुछ हंसने के फायदे :-

 #  हंसने से मिलती है पॉजिटिव एनर्जी :-

हंसने से हमारे अंदर सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है। कुछ देर तक खुलकर हंसने से मांसपेशियां कम से कम 45 मिनट तक रिलैक्स हो जाती है। साथ ही खुलकर हंसने से सारा तनाव बाहर निकल जाता है, जिससे तनाव से होने वाली मानसिक व शारीरिक ससमस्याओं से बचाव होता है। 

 #  हंसने से बढ़ती है इम्युनिटी :- 

हंसी से इम्युनिटी भी बढ़ती है। हंसने से एंटीबॉडी कोशिकाएं को ऐसे हार्मोन को स्त्राव करने के लिए उत्तेजित करती है। जो शरीर में होने वाले बदलाव का सामना कर सके। एक रिसर्च में यह भी सामने आया है कि हंसी से कैंसर वाली कोशिकाएं और अन्य प्रकार के बैक्टीरिया व वायरस को भी नष्ट किया जा सकता है। क्योंकि हंसने से ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाती है। इसके अलावा यह दर्द निवारक थेरेपी की तरह भी कार्य करता है। हंसने से अच्छा महसूस होने वाले हार्मोन का स्त्राव होता है जो प्राकृतिक दर्द निवारक के तौर पर काम करता है। 

 #  हंसने से कैंसर से भी बचाव :-

हंसी के जरिए कैंसर से बचाव की संभावना बढ़ जाती है। क्योंकि इससे शरीर में इंटरफेरॉन गामा यानी आईएफएन ( IFN ) का स्तर बढ़ जाता है। आईएफएन बी-सेल्स, टी-सेल्स, एनके सेल्स और इम्यूनोग्लोबिन को उत्तेजित करता है जो कोशिकाओं की वृद्धि को नियंत्रित करते है। यह सभी तत्व स्वस्थ प्रतिरोधक क्षमता के लिए भी लाभकारी होते है। 

 #  स्किन पर भी असर :-

हंसी को नेचुरल कॉस्मेटिक भी कहा जा सकता है। इसका असर प्राकृतिक एंटी-एजिंग के तौर पर दिखाई देता है। हंसने से चेहरे की मांसपेशियों की भी एक्सरसाइज होती है, जिससे झुर्रियां नहीं पड़ती है। साथ ही मोटापे पर भी नियंत्रण रहता है। रोजाना एक घंटे हंसने से 400 कैलोरी ऊर्जा की खपत होती है। यही वजह है कि इन दिनों हास्य क्लब की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। 

 #  हंसने से ब्लड प्रेशर पर नियंत्रण :- 

हाई ब्लड प्रेशर वालों को ज्यादा हंसना चाहिए। अध्ययन के मुताबिक़ हंसने के शुरुआत में वाहिनियों में रक्त का दबाब बढ़ जाता है। लेकिन यह बढ़ा हुआ स्तर तुरंत ही सामान्य स्तर पर पहुँच जाता है। इससे यह भी साबित होता है कि हंसने से रक्त का संचार बढ़ने के साथ ही ब्लड प्रेशर भी कम होता है।


 #  नेचुरल एक्सरसाइज :-

हंसने से शरीर के विभिन्न मसल्स की एक्सरसाइज होती है हंसने से डायफ्राम और पेट की मसल्स पर असर पड़ता है जो बार-बार फैलती और सिकुड़ती है। चेहरे की मसल्स की भी एक्सरसाइज होती है। जो हंसने के तरिके पर निर्भर करता है। 

 #  हंसने से कम होता है वजन :-

शोधों के अनुसार डिप्रेशन या तनाव में रहने पर व्यक्ति ज्यादा खाने के अलावा जंक फ़ूड का सेवन ज्यादा करता है। इसका असर सीधा वजन पर पड़ता है। लेकिन हंसने से दिमाग से एक रसायन सेरोटोनिन निकलता है जो प्राकृतिक तौर पर भूख पर नियंत्रण करने का कार्य करता है। इससे व्यक्ति को न तो जल्दी - जल्दी भूख लगती है। और न ही बिना भूख के कुछ खाने की इच्छा होती है। ऐसी स्तिथि में वजन पर पूरी तरह नियंत्रण रहता है। 

 #  हंसने के लाख बहाने :-  

जिस तरह फिजिकली फिट रहने के लिए रोजाना योग और एक्सरसाइज करते है। वैसे ही हंसने के लिए भी लाफ्टर क्लब से जुड़ सकते है। लाफ्टर योगा भी अच्छा विकल्प है। अच्छा और ऊर्जा से भर देने वाला संगीत सुनें और कॉमेडी फिल्में देखें। अच्छी और मनोरंजक किताबें पढ़ें। बच्चों और अपने पेट्स के साथ वक़्त बिताएं। 

 #  हंसने के फायदे :-

याद्दाश्त और मूड को बेहतर करने में हंसी सहायक होती है। शरीर में स्ट्रेस पैदा करने वाले हार्मोन का स्तर कम होता है। 
स्वास्थ्य को सुधारने वाले हार्मोन को बढ़ाता है। 
रक्त का संचार और ऑक्सीजन की मात्रा शरीर में बढ़ती है। और हाई ब्लड प्रेशर को कम करने में मदद मिलती है। 

 #  निष्कर्ष :-

हंसने से आँखें, जबड़े और दिल की मांसपेशियों को आराम भी मिलता है और रक्त संचार भी ठीक रहता है। जब हम खुलकर हँसते है तो दिल तक पहुँचने वाला रक्त संचार बढ़ जाता है और रक्तवाहिनियों की गतिविधि भी बेहतर होती है हंसने से अस्थाई तौर पर हार्ट रेट बढ़ जाता है जिससे दिमाग तक ऑक्सीजन का फ्लो बढ़ जाता है इसके अलावा हंसने से दिल की एक्सरसाइज भी होती है। हंसने से शरीर से एंडोर्फिन हार्मोन निकलता है। जो दिल को मजबूत बनाता है। इन सब गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए हम यह कह सकते है कि हंसी सब दवाओं का मर्ज़ है। तो आज से ही संकल्प लें की आप दिन में कम से कम एक बार तो जरूर खुलकर हसेंगे


Extra Tips:-


 #  साइक्लिंग से कम होता है आँखों के कैंसर का खतरा। 

हंसना है सेहत के लिए बेहद फायदेमंद-हंसने के Top फायदे
बिस्टॉल यूनिवर्सिटी के विशेषशज्ञों के अनुसार जो लोग साइक्लिंग करते है। उनकी बड़ी इंटेस्टाइन में खाद्य पदार्थों का मूवमेंट तेज़ हो जाता है। इससे स्टूल सॉफ्ट होती है। हार्ले स्ट्रीट गेस्ट्रोएंट्रोलॉजिस्ट डॉ. एना रायमुड़ो का कहना है कि साइक्लिंग आँतों के कैंसर का खतरा घटाती है। साइक्लिंग से हार्ट रेट बढ़ती है , सांस तेज़ चलती है जो इंटेस्टाइन के लिए बेहद फायदेमंद है। 


 #  Fiber डाइट से दूर हो सकता है दमा (Asthma)

स्विट्ज़रलैंड की एक यूनिवर्सिटी द्वारा कि गई स्टडी में कहा गया है कि हाई फाइबर डाइट लेकर आप अस्थमा जैसी खतरनाक बिमारी से बच सकते है। शोधकर्ताओं ने यह भी पाया है कि भारत जैसे विकासशील देशों में अस्थमा की समस्या ज्यादा पाई जाती है। इसके पीछे सीधा सा कारण है कि यहाँ लोग कम हाई फाइबर डाइट लेते है, जिसकी वजह से शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है। 


 #  दिमाग पर भी हावी होता है एक जगह पर ज्यादा देर तक बैठना।  

लॉस एंजेल्स की कैलिफ़ोर्निया यूनिवर्सिटी में हाल ही में हुए एक शोध के अनुसार लंबे समय तक बैठे रहने से न केवल शरीर व हृदय पर बल्कि दिमाग की कार्यक्षमता पर भी बुरा असर पड़ना पाया गया है। शोधकर्ताओं के अनुसार कुछ लोगों पर किए गए शोध में यह सामने आया कि दिमाग का एक ख़ास हिस्सा, मीडियल टेम्पोरल लोब ( एमटीएल ) याद्दाश्त का निर्माण करता है। ऐसे में लंबे समय तक बैठने से यह हिस्सा कमज़ोर होने लगता है। 


 #  अच्छे नाश्ते से पाएं अच्छी सेहत भी :- 

स्नैक्स तो हर कोई लेता है, लेकिन स्नैकिंग स्मार्ट हो तो शरीर खुद ब खुद हेल्दी रहता है। अगर आप सेहत के प्रति जागरूक है तो स्नैक्स ऐसा लें जिससे शरीर को समुचित विटामिन और मिनरल सप्लाई हो सके। इसके लिए आपको अखरोट, काजू, बादाम, बेरीज, मूंगफली, चने आदि अपने साथ रखने चाहिए। ज्यादा भूख लगने से पहले ही इन्हें खा लेना चाहिए। 



 #  पेट के Cancer से बचाता है टमाटर का रस :- 

नियमित तौर पर टमाटर का रस लिया जाए तो पेट से जुड़े कैंसर का खतरा कम होता है। इटली के ऑन्कॉलजी रिसर्च सेंटर में हुई शोध में यह सामने आया है। शोध के अनुसार टमाटर के रस में मौजूद ख़ास तत्व कैंसर कोशिकाओं को बढ़ने से रोकती है। शोध के मुताबिक ऐसा सिर्फ लाइकोपीन की वजह से नहीं बल्कि इसमें मौजूद कई ख़ास तत्वों की वजह से होता है। शोधार्थी का कहना है रोजाना एक टमाटर डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए। 


 #  सुबह की सैर दूर करती है तनाव :-

कभी - कभी हंस भी लिया करो जी - हंसने के Top फायदे
एक नए अध्ययन से पता लगा है कि सुबह कि सैर शरीर को ही चुस्त - दुरुस्त नहीं रखती बल्कि अवसाद से निजात पाने में भी सहायक है। पत्रिका  'मेन्टल हेल्थ एंड फ़िज़िकल एक्टिविटी ' में प्रकाशित शोध दर्शाता है कि सैर की अवसाद कम करने में काफी अहम भूमिका रहती है। कड़े शारीरिक व्यायाम को अवसाद के लक्षण को कम करने में उपयोगी माना जाता रहा था। इस शोध ने शाम की सैर को भी कारगर माना है। 

 #  डिलीवरी के बाद मसाज से तन और मन सेहतमंद :-

डिलीवरी के बाद महिलाओं का वजन बढ़ना आम बात है लेकिन इसे मसाज करके शरीर के इस अतिरिक्त बढे हुए वजन को कम किया जा सकता है स्त्री रोग विशेषज्ञ हेमा दिवाकर के मुताबिक डिलीवरी के बाद हल्के हाथों से बॉडी मसाज स्किन की मसल्स को टोन करने के साथ महिला को फिट रखा जा सकता है। बॉडी मसाज शरीर का रक्तसंचार बेहतर करने के साथ महिला को फिट रखा जा सकता है।   


 #  कॉफ़ी से होता है प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम कम :-

कभी - कभी हंस भी लिया करो जी - हंसने के Top फायदे
द इंस्टिट्यूट ऑफ़ मेडिटरेनियन न्यूरोलॉजी के शोधकर्ताओं ने रिसर्च में पाया है कि रोजाना कॉफ़ी के तीन कप पिने से प्रोस्टेट कैंसर का जोखिम 50 फीसदी तक कम हो जाता है। वैज्ञानिकों ने इटली के 7000 लोगों पर अध्ययन किया। यहाँ कॉफी को लेकर बिना फ़िल्टर उच्च तापमान के पानी में तेज़ दबाव के साथ बनाने का रिवाज़ है। वैज्ञानिकों का मनना है कि कॉफ़ी बनाने की इस विधि से बायोएक्टिव तत्वों का स्तर बढ़ जाता है।


Last words :-

दोस्तों आपको [ हंसना है सेहत के लिए बेहद फायदेमंद-हंसने के Top फायदे ] ये आर्टिकल कैसा लगा। 
हमें अपने विचार कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। 
ताकि हम आपके लिए भविष्य में भी ऐसी जानकारी लाते रहे। 
धन्यवाद ।  

Post a Comment

0 Comments

All Rights Reserved - Hashwh.com - 2018