स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद - Neend ke fayde

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद 

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद
अगर आप सेहतमंद रहना चाहते है तो आपको पर्याप्त नींद लेनी चाहिए। नींद के दौरान आपके शरीर की कोशिकाओं को खुद को सुधारने का मौका मिलता है। यूनिवर्सिटी ऑफ़ सरेय के स्लीप एंड हेल्थ रिसर्चर प्रोफेसर कॉलीन स्मिथ कहते है कि नींद के अभाव में हमारी कोशिकाओं में पर्याप्त सुधार नहीं हो पाता है। इससे शरीर में कई तरह की बीमारियां पैदा होने की आशंका बढ़ जाती है। 

अच्छी नींद लेने के फायदे 

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद

 #  अच्छी नींद से आप स्लिम रहते है :-

सोने से संबंधित किए गए एक अध्ययन से साबित होता है कि जो लोग रात में छह घंटे से कम सोते है, उन्हें मोटापे की आशंका उन लोगों से 90 फीसदी बढ़ जाती है , जो रात के समय में 7 से 8 घंटे सोते है। नींद के कारण लोगों को भूख का अहसास नहीं हो पाता है। इससे शरीर स्लिम बना रहता है। इससे हंगर हार्मोन घरेलिन घटता है और पेट भरा महसूस करवाने वाला हार्मोन लेप्टिन बढ़ता है। 

 #  अच्छी नींद से बढ़ती है दिमागी शक्ति :-  

सही तरह से न सोने से दिमाग के हर फंक्शन पर नकारात्मक असर पड़ता है।इससे एकाग्रता पर नेगेटिव असर पड़ता है। और दिमाग सही फैसले नहीं ले पाता है। इससे इंसान की मानसिक क्षमता पर भी बुरा असर पड़ता है। अच्छी नींद से वयस्कों और बड़ों में समस्या सुलझाने की क्षमता का विकास होता है। पर्याप्त नींद लेने से बुजुर्गों में डिमेंशिया का खतरा कम हो जाता है। 

 #  अच्छी नींद से हृदय स्वस्थ रहता है :-

सात घंटे से कम समय की नींद लेने से आपको हृदय से संबंधित बीमारियां और स्ट्रोक हो सकता है। नींद कम लेने से हृदय की बिमारी पेदा करने वाले तीन कारक बढ़ते है :- मोटापा, उच्च रक्तचाप और उच्च कोलेस्ट्रोल। एक अध्ययन में पाया गया है कि अगर आप एक रात भी अपर्याप्त नींद लेते है और उच्च रक्तचाप से पीड़ित है तो अगले पुरे दिन उच्च रक्तचाप की समस्या पैदा हो सकती है। जो आपके स्वास्थ्य को बुरी तरह प्रभावित कर सकती है।  

 #  अच्छी नींद से कम होता है डायबिटीज का खतरा :-

कई अध्ययन कम नींद और टाइप-2 डायबिटीज के बीच में संबंध साबित करते है। जो वयस्क रात में छह घंटे से कम समय की नींद लेते है, उनके अंदर डायबिटीज पैदा होने का खतरा रहता है। कुछ दिन लगातार न सोने से प्री-डायबिटिक्स की स्तिथि आ सकती है। इसमें उच्च रक्तचाप कि स्तिथि समय के साथ डायबिटीज में बदल सकती है। इससे पहले हुए कई शोधों से भी यह बात सामने निकलकर आई है कि अच्छी और पूरी नींद हो तो डायबिटीज सहित कई बीमारियां आसपास भी नहीं आती। 

 #  अच्छी नींद से अवसाद भी नहीं आता :- 

अवसाद का कम नींद के साथ गहरा संबंध है। अवसाद से पीड़ित 90 फीसदी लोग कम नींद की समस्या से परेशान रहते है। इसी तरह जो लोग कम नींद की समस्या इंसोमेनिया से परेशान है, उनमें अवसाद ज्यादा पाया गया है। नींद की कमी आत्महत्या के बढ़ते खतरे से भी जुड़ा हुआ है। 

 #  अच्छी नींद से आप ऊर्जावान बने रहते है :-  

कम सोने वाले महिला और पुरुषों में ऊर्जा की कमी और ज्यादा तनाव की स्थिति देखी जाती है। जिन पुरुषों में सोने में व्यवधान की समस्या है, उनमें टेस्टोस्टेरोन का कम स्तर पाया गया है। पुरे दिन पॉवरफुल बने रहने  के लिए आपको भरपूर नींद लेनी बेहद आवश्यक है। 

 #  अच्छी नींद से बुढ़ापा जल्दी नहीं आता :-

त्वचा वैज्ञानिकों के अनुसार अच्छी नींद न लेने से बूढ़े होने की गति बढ़ जाती है। जब आप पर्याप्त नींद नहीं लेते है तो आपका शरीर स्ट्रेस हार्मोन कोर्टिसोल रिलीज़ करता है। इसकी ज्यादा मात्रा त्वचा के कोलेजन को तोड़ देती है। कोलेजन प्रोटीन त्वचा को लचीला और मोटा बनाने में मदद करता है। नींद कम लेने से ह्यूमन ग्रोथ हार्मोन्स या यूथ हार्मोन कम मात्रा में रिलीज़ होता है। यह त्वचा को स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। और डैमेज टिशुओं को रिपेयर करता है। लंबे समय तक कम नींद लेना आपकी प्रतिरोधात्मक क्षमता को भी कम करता है। 

 #  अच्छी नींद से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है :-

इंसान को अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता को उच्चतम स्तर पर रखने के लिए पर्याप्त नींद लेनी चाहिए। नींद में थोड़ी-सी कमी करने से भी रोग प्रतिरोधक क्षमता पर नकारात्मक असर पड़ता है। ठंड और ज़ुकाम पर किए गए एक अध्ययन से साबित होता है कि जो लोग सात घंटे से कम सोते है, उनके अंदर यह समस्या ज्यादा होती है। 

 #  याद्दाश्त बढ़ाती है अच्छी नींद :-

कई शोधों में यह साबित चूका है कि अच्छी नींद लेने से  मेमोरी टी कोशिकाओं को मजबूती मिलती है। इससे संक्रमण से लड़ने में मदद मिलती है मेमोरी टी कोशिकाएं संभावित तौर पर रोगाणुओं से संबंधित जानकारियों को रखने का काम करती है शोध में यही पाया गया है कि लंबी अवधि के लिए याद्दाश्त का निर्माण नींद के दौरान होता है। अगर आप ढंग से नींद नहीं ले रहे है, तो आपका शरीर कई तरह के खतरों का सामना कर रहा होता है।  

Note Please :-

रात में जो लोग 6 घंटे से कम समय सोते है, उनमें मोटापे की आशंका उन लोगों से 90 फीसदी बढ़ जाती है, जो रात के समय में 7 से 8 घंटे सोते है। 

 #  निष्कर्ष :-

शोध साबित करते है कि नींद की कमी से दीर्घावधि में आपको कई बीमारियां हो सकती है। इसलिए आपको रात के समय में आराम जरूर करना चाहिए। नींद जीवन के लिए वरदान है। इससे आपका पूरा शरीर प्रभावित होता है। 

 #  Extra Tips :-


जिस प्रकार हमारे स्वास्थ्य के लिए अच्छी नींद बेहद जरूरी है बिलकुल उसी तरह अच्छा खान-पान भी हमारे शरीर के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि, अगर हम अच्छा खाएगें तभी तो सर्वाइव कर पाएगें। खाना ही हमारे शरीर को ऊर्जा प्रदान करता है। वो कहावत तो सुनी ही होगी आपने :- पहला सुख निरोगी काया। तो चलिए नींद के फायदों के साथ-साथ जान लेते है कुछ हेल्दी फूड्स के बारे में :-

पॉवर कॉम्बो फ़ूड संग सेहत की जुगलबंदी 

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद - Neend ke fayde

खाने में अक्सर फल, सब्ज़ियां, फाइबर अधिक लेने की सलाह दी जाती है। ज्यादातर लोगों को ऐसी चीजों के बारे में नहीं मालूम जो कॉम्बिनेशन के साथ ली जाएं तो ख़ास फायदा पहुंचाती है। चलिए जानते है ऐसी ही ख़ास डाइट के बारे में :-

 #  पालक + ओलिव ऑयल :-

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद
मजबूत दिल व हड्डी :-
ओमेगा-3 यानी गुड फैट शरीर के लिए काफी जरूरी है। यह कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करता है। साथ ही शरीर में विटामिन को अवशोषित करने में मदद करता है। 
विटामिन के स्त्रोत :- पालक, शलजम या शलगम के पत्ते , ब्रोकली, पत्तागोभी इत्यादि। 
ओमेगा-3 के स्त्रोत :- नट्स, ऑलिव, तिल का तेल, कैनोला आदि। 
कॉम्बो :- विटामिन-k और गुड फैट को एक साथ पकाने से दिल और हड्डियां मजबूत होती है। 

 #  एवोकैडो + गाजर :-

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद
चमकदार स्किन :-
गाजर में बीटा केरोटिन और विटामिन-A प्रचुर मात्रा में होता है। जो स्किन को चमकदार बनाता है। एवोकैडो से भी विटामिन-A मिलता है। 
बीटा केरोटिन के स्त्रोत :- गाजर, शकरकंद, पपीता, पालक, खुबानी, पत्तागोभी। 
  कॉम्बो :- अवन [ तंदूर ] में शकरकंद को रोस्ट करके उसमें ऑलिव ऑयल डालें और इसे एवोकेडो के साथ खाएं। इससे आपकी त्वचा में प्राकृतिक चमक आएगी। 

 #  संतरा + पालक :- 

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद
ऊर्जा ही ऊर्जा :-
आयरन और विटामिन-C दिमाग, मांसपेशियों और पुरे शरीर को ऊर्जा देता है। 
आयरन के स्त्रोत :- पालक, ओट्मील, टोफू, काले चने, और सफेद छोले आदि। 
विटामिन-C के स्त्रोत :- खट्टे फल, कीवी, अमरुद, टमाटर, स्ट्रॉबेरी ब्रोकली इत्यादि। 
कॉम्बो :- पालक और संतरे के साथ सलाद के रूप में खाएं। यह तुरंत ऊर्जा प्रदान करता है।

 #  ब्राउन राइस + प्याज़ :- 

स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद
 मजबूत इम्यून सिस्टम :-
प्याज़ और लहसुन सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते बल्कि इनमें मौजूद सल्फर कंपाउंड ज़िंक को शरीर में अवशोषित करने में भी मदद करता है। जिससे रोग प्रतिरोधक तंत्र मजबूत होने के साथ घाव भी जल्दी भरते है। 
ज़िंक के स्त्रोत :- सभी अनाज खासकर ब्राउन राइस इत्यादि। 
सल्फर कंपाउंड के स्त्रोत :- प्याज और लहसुन। 
कॉम्बो :- ब्राउन राइस को प्याज के साथ मिलाकर खाएं।  इससे इम्यून सिस्टम बेहतर तरिके से काम करता है। 

Note :- ये ध्यान रखें। 
पालक में नाइट्रेट तत्व पाया जाता है इसे ताजा पका हुआ ही खाना चाहिए। दोबारा गर्म करके खाने से यह एसिड बन जाता है और पाचन क्रिया को नुक्सान पहुंचता है। इसके अलावा मशरूम को भी दोबारा गर्म करके नहीं खाना चाहिए। 


Last words :-

दोस्तों नींद से संबंधित ये :- स्वस्थ और मस्त ज़िंदगी के लिए वरदान से कम नहीं है नींद - आर्टिकल आपको कैसा लगा अपने विचार कमेंट बॉक्स में अवश्य बताएं। 
धन्यवाद। 

Post a Comment

0 Comments

All Rights Reserved - Hashwh.com - 2018